Horizontal Banner
×

Warning

JUser: :_load: Unable to load user with ID: 807

सचिव के मनमानी से गांव में हो रहा हैं शांति भंग, पंचायत सचिव के कार्य से सैकड़ो ग्रामीण सहित पंचायत प्रतिनिधि भी नराज Featured

गरियाबंद: जिलेे के ग्राम पंचायत पाटसिवनी के सैकड़ो ग्रामीण सहित पंचायत प्रतिनिधि पंचायत सचिव के कार्य से खासा नराज है, ग्रामीण पंचायत सचिव पर मनमानी का आरोप लगा कर उसे हटाने के लिए पंचायत में तालाबंदी करने लामबंद हो गए है। दरअसल पूरा मामला जनपद पंचायत छुरा अंतर्गत के ग्राम पंचायत पाटसिवनी का है।

गांव के सरपंच सहित ग्रामीणों ने बताया की पंचायत सचिव घनश्याम यदु के कार्यकाल से ग्रामीण असंतुष्ट है। क्योकि वह 12-13 वर्ष से एक ही पंचायत में पदस्थ है। जो मनमानी और अड़ियल रवैया अपना कर अपने मन मुताबिक काम करता है। गांव की सरपंच तामेश्वरी ध्रुव ने बताया कि सचिव किसी का बात ही नही सुनता और अपना मनमानी चलाता है। जिससे गांव में शांति भंग हो रहा है।

वही ग्राम विकाश समिति के अध्यक्ष चैतूराम ध्रुव व सरपंच पति चम्पेश्वर ध्रुव सहित ग्रामवासी भूपेंद्र जाट ने बताया कि सचिव हर बात को लेकर हमे गुमराह में रखता है। और कोई भी काम नही करता है। चम्पेश्वर ध्रुव ने बताया कि राशन कार्ड बनाने आवेदन किया गया तो सचिव द्वारा दो हज़ार रुपय का डिमांड किया जा रहा है, पंचायत सम्बंधित जानकारी मांगने पर सचिव जानकारी नही देता और ग्रामीण व पंचायत प्रतिनिधियों से अभद्र व्यवहार करता है।

सरपंच व ग्रामीणों ने ग्राम सचिव घनश्याम यदु पर गंभीर आरोप लगाए है। जिसको लेकर बताया कि सचिव द्वारा नव नियुक्त जन प्रतिनिधि सरपंच,पंचगण से पंचायत बैठक में ऊंची आवाज और टेबल ठोक कर बात किया जाता है। तथा कोई भी जानकारी पूछने से आर.टी.आई. लगाकर जानकारी लेने का हवाला देता है।

साथ ही बताया कि सचिव घनश्याम यदु प्रभार के समय 14वें वित्त की राशि की पूर्ण जानकारी नहीं दिया। पूछने पर उस राशि की जानकारी लेने का अधिकार नहीं है कहकर टाल दिया गया। यह बात खाता की एंट्री करने के बाद पता चला कि 14वें वित्त की राशि का आहरण आचार संहिता के वक्त किया गया है,जो कि आचार संहिता का उल्लघंन है। वही शौचालय निर्माण की राशि 14वें वित्त से भुगतान के लिए बार-बार हस्ताक्षर करने के लिए हम पर दबाव बनाने का प्रयास किया जाता है।

सरपंच व ग्रामीणों ने सचिव पर गंभीर आरोप लगाते हुए मामले कि जांच कराने कलेक्टर के नाम आवेदन लिख कर इसी शिकायत छुरा जनपद सीईओ से की है। साथ ही मामले की शिकायत जिला कलेक्टर से भी करेंगे।ग्रामीणों ने कहा कि अगर तीन चार दिनों के अंदर मामले की जांच कर सचिव को पाटसिवनी पंचायत से नही हटाया गया तो वे पंचायत में तालाबंदी करेंगे। फिलहाल अब देखना होगा कि जनपद पंचायत छुरा द्वारा मामले को लेकर क्या कदम उठाया जाता है या फिर प्रशासन को पंचायत में तालाबंदी का सामना करना पड़ेगा। वही इस मामले में जनपद पंचायत छुरा की सीईओ रुचि शर्मा ने कहा कि शिकायत मिली है मामले में जांच करने टीम गठित किया जाएगा। जांच में अगर मामला सही पाया जाता है तो इस मामले में कड़ी कार्यवाही किया जाएगा।

Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.