Horizontal Banner
×

Warning

JUser: :_load: Unable to load user with ID: 807

जशपुर में मैं बड़े उद्योग के पक्ष में नहीं, कृषि और पर्यटन उद्योग को मिलेगा बढ़ावा : मिंज

जशपुर। कुनकुरी विधायक यूडी मिंज का संसदीय सचिव वाणिज्य कजशपुरर, उद्योग एवं आबकारी विभाग बनने के बाद जिले में पहली बार आगमन हुआ। इस दौरान उन्होंने जिला मुख्यालय में पत्रकारों से मुलाकात कर विभिन्न विषयों पर चर्चा की।

Also read ; BREAKING: छत्तीसगढ़ में अब होटलों में भी करा सकेंगे कोरोना का इलाज

जशपुर में पत्रकारों को उन्होंने अपनी प्राथमिकता और योजनाओं के बारे में बताया उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा के स्पीकर चरणदास महंत, स्वास्थ्य मंत्री टी.एस सिंह देव ,खाद्य मंत्री अमरजीत भगत के साथ प्रदेश सरकार के सभी मंत्रीगण और कांग्रेस संगठन ने मुझ पर विश्वास जता कर संसदीय सचिव बनाया है ।

Also read:BREAKING: चोरों ने मोबाइल शाॅप में की चार लाख के मोबाइल चोरी पुलिस कर रही छानबीन

उन्होंने मंत्री कवासी लखमा के साथ वाणिज्य कर, उद्योग एवं आबकारी विभाग जैसे प्रमुख मंत्रालय में जिम्मेदारी मिलने और खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि वाणिज्य, उद्योग एवं आबकारी मंत्रालय का संसदीय सचिव होने के नाते मेरी पहली प्राथमिकता क्षेत्र में उद्योग और रोजगार से जुड़े कार्यों को गति देना होगी। उन्होंने यह भी कहा कि कृषि क्षेत्र से संबंधित उद्योगों को बढ़ावा देकर रोजगार सृजन किया जाएगा और जिले का विकास किया जाएगा। कॉटेज इंडस्ट्री, छोटे उद्योगों को स्थापित कर रोजगार को बढ़ावा देना भी मेरी प्राथमिकता है।

Also read ; मौत के बाद महिला की रिपोर्ट आई पाॅजिटिव, अंतिम संस्कार में शामिल हुए थे कई लोग, मचा हड़कंप

उद्योग एवं आबकारी विभाग के संसदीय सचिव यूडी मिंज ने कहा कि उद्योग विभाग सरकार का प्रमुख विभाग है। उद्योगों के विकास से प्रदेश की इकॉनामी मजबूत होती है। उन्होंने कहा जशपुर के वातावरण को ध्यान में रखते हुए यहां गौठानों में 1 हेक्टेयर आरक्षित भूमि में इंडस्ट्रीयल पार्क की स्थापना की जाएगी, जिसमें किसानों, समूहों के द्वारा विभिन्न प्रकार के कृषि आधारित उत्पाद तैयार किए जाएंगे जिसे बाजार में उतारा जाएगा। इससे किसानों व ग्रामीणों को रोजगार व व्यापार का अवसर मिलेगा।ग्रामीण अर्थव्यवस्था के मजबूत होगी उन्होंने प्रदेश सरकार की नरवा,गरूवा, घुरूवा,बाड़ी योजना के तहत बन रहे गौठान को अपने सोच व विचारों के बेहद करीब बताया।

Also read ; ममता चंद्राकर बोलीं- लोक संगीत के सागर से चुनेंगे मोती, प्राथमिक शिक्षा में पिरोना है सरगम भी

जशपुर जिले में जलवायु 0 से 40 डिग्री टेम्परेचर होने से उद्यानिकी फसलों और फलों आम लीची नाशपाती स्टाबेरी पपीता चीकू कटहल आदि प्रसंस्करण के लिए लघु उद्योग स्वसहायता समूह के माध्यम से स्थापित करने पर जोर दिया। संसदीय सचिव यूडी मिंज ने कहा कि जिले में लीची, आम, कटहल के साथ ही नाशपाती के साथ ही मिर्च टमाटर चाय की पैदावार अच्छी है। लघु उद्योगों की कमी और उचित प्रबंधन नहीं होने के कारण उत्पादको को उचित का लाभ नही मिल पा रहा है इसलिए लघु उद्योग का विस्तार कर फलों का उचित रख-रखाव कर इन्हें डिहाइड्रेट किया जा सकता है ।रोजगार को बढ़ावा देने के लिए इस दिशा में सोचना जरूरी है।

रागनीति के ताजा अपडेट के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर पर हमें फालो करें।

मिंज ने कहा कि जशपुर के अनुकूल वातावरण को देखते हुए मैं स्वयं भी जशपुर में बड़े उद्योगों के पक्ष में नहीं हूं। उद्योग लगने से जशपुर के लोग वहां काम करके पैसा कमा सकते हैं मालिक नहीं बन सकते मैं उन्हें छोटे उद्योग का मालिक बनाने के पक्ष में हूँ। इसलिए कृषि इंडस्ट्री और आर्गेनिक कृषि को बढ़ावा दिया जाएगा। जिले के फरसाबहार क्षेत्र में हाथी और ग्रामीण की मौत के सवालों के जवाब में मिंज ने कहा कि उनकी संवेदना इंसान और जीव दोनों पर है। न ही हाथी की मौत हो और न ही इंसान की मौत हो। उन्होंने कहा जंगल में जीवों के चरने के लिए उचित अनाज का प्रबंधन करने से ही हादसे रूकेंगे, इस संबंध में डीएफओ से चर्चा की गई है।

Also read ; शासन की लापरवाही से राजधानी Corona Hotspot में तब्दील - Brijmohan

जंगल तेजी से सिमट रहे हैं इसलिए जीव गांवों की ओर आगे बढ़ रहे हैं। गुणवत्ताहीन सडक़ बर्दाश्त नहीं मिंज ने कहा कि जिले की बदहाल सडक़ों को लेकर जिले की बहुत अधिक बदनामी हो रही है। उन्होंने कहा कि एनएच, एसएच और ग्रामीण सडक़ सभी का निर्माण गुणवत्ता को ध्यान में रखकर कराया जाए। गुणवत्ताहीन सडक़ों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और अधिकारियों पर कार्रवाई भी की जाएगी।

सीएम से पीजी डॉक्टर की मांग

संसदीय सचिव ने अपनी प्राथमिकताओं में स्वास्थ्य विभाग का जिक्र करते हुए कहा कि जिले में अच्छे और स्पेशलिस्ट चिकित्सकों की मांग भी सीएम भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव से की है। एनेस्थिसियस्टि, रेडियोलॉजिस्ट, गायनोकालॉजिस्ट, पीडियाट्रिक्स के विशेषज्ञ चिकित्सकों की मांग की गई है।

रागनीति के ताजा अपडेट के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर पर हमें फालो करें।

Rate this item
(0 votes)
Last modified on Saturday, 25 July 2020 21:11

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.