Horizontal Banner
×

Warning

JUser: :_load: Unable to load user with ID: 807

32 करोड़ की लापरवाही: फाइलों में दब गई रेत-मुरुम की जांच, पिपरिया के युवा पाट रहे जल आवर्धन का गड्‌ढा Featured

जल आवर्धन योजना में भ्रष्टाचार के आरोप बाद बनी थी पांच लोगों की टीम, डेढ़ महीने बाद भी रिपोर्ट का पता नहीं।

खैरागढ़. जल आवर्धन योजना में हुए कथित भ्रष्टाचार की जांच फाइलों में दब कर रह गई है। भाजपा पार्षदों की शिकायत के बाद तकरीबन डेढ़ माह पहले पांच सदस्यीय कमेटी बनाकर जांच करने के लिए कहा गया था। इस कमेटी में खुद एसडीएम निष्ठा पांडेय तिवारी, नायब तहसीलदार हुलेश्वर नाथ खूंटे, अनुविभागीय अधिकारी पीएचई, पीडब्ल्यूडी और उपकोषालय अधिकारी शामिल थे।

इसे भी पढ़ें: 32 करोड़ की खामी: गलियां खोदकर भूला ठेकेदार और बिना ऑडिट काटे गए चेक की खामी तलाश रहे जिम्मेदार

टीम को सात दिनों के भीतर जांच कर रिपोर्ट सौंपना था। टीम गठन के बाद 3 सितंबर को उपाध्यक्ष रामाधार रजक और पार्षद शेष नारायण यादव ने सदस्यों के सामने उपस्थित होकर दस्तावेजी प्रमाण सौंपे थे। इसके बाद आगे की कार्रवाई का अता-पता नहीं है। जांच रिपोर्ट भी सार्वजनिक नहीं की गई है।

हालांकि एसडीएम तिवारी का कहना है कि जांच हो चुकी है और उन्होंने अपनी रिपोर्ट कलेक्टर को भेज दी है। रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं होने से पता ही नहीं चल पा रहा है कि 32 करोड़ की जनहितकारी योजना में भ्रष्टाचार के आरोप सही थे या गलत! इधर ठेकेदार की लापरवाही बढ़ती ही जा रही है। शहर में कांक्रीट रोड को खोदकर पाइप तो बिछाई गई है, लेकिन महीनों बिना मरम्मत के छोड़ दिया गया। ऐसे स्थानों पर रोज हादसे हो रहे हैं।

जिला सेन समाज के कार्यकारी अध्यक्ष नरेंद्र श्रीवास ने सोशल मीडिया के जरिए अपनी नाराजगी भी जाहिर की है। उनका कहना है कि ठेकेदार ने पूरी रोड खोद डाली। एक माह से आवाजाही प्रभावित हो रही है, लेकिन कोई झांकने तक नहीं आया। लोगों का कहना है कि न अफसरों काे फुरसत है और न ही जनप्रतिनिधियों को फिक्र।

पिपरिया के युवाओं ने रात में दो घंटे मेहनत कर सुधारी सड़क

पिपरिया में मुख्य मार्ग पर ठेकेदार ने तीन माह पहले गड्‌ढा खोदा था। पाइप लाइन बिछाया और सड़क उबड़-खाबड़ छोड़ दिया। रोज छुटपुट हादसे होने लगे। एकाध को तो गंभीर चोटें आईं। पिपरिया वासियों ने इसकी शिकायत भी की थी। वार्ड पार्षद शैलेंद्र वर्मा ने बताया कि सभापति मनराखन देवांगन के माध्यम से इसकी शिकायत की गई थी, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई।

इधर प्रशासन की सुस्ती देख युवाओं ने सड़क की मरम्मत का बीड़ा उठाया। नवरात्रि से एक दिन पहले 16 अक्टूबर की रात तकरीबन 8 बजे गांव में संकल्प युवा क्रांति संगठन के 10 से 12 युवा इकट्‌ठा हुए। दो बोरी सीमेंट, रेत-गिट्‌टी आदि का इंतजाम कर श्रमदान किया और दो घंटे पसीना बहाकर सड़क की दशा सुधार दी।

संगठन प्रमुख हर्षवर्धन वर्मा ने बताया कि लगभग तीन माह से रोज उस गड्‌ढे को लेकर चर्चा हो रही थी। सभी शिकायत कर रहे थे। इसलिए हमारी टीम ने खुद यह बीड़ा उठाया और समस्या को जड़ से समाप्त कर दिया।

कुएं को सजाया और शीतला मंदिर को भी संवार रहे

हर्षवर्धन ने बताया कि संगठन में तकरीबन 35 युवा हैं। सड़क सुधारने के लिए महेंद्र वर्मा, विनोद, भीषम, खिलेश, भूपेंद्र, स्वरूप, देवेंद्र, वीरेंद्र, लालचंद सहित 10 से 12 लोग सामने आए। संगठन के युवा ऐसे ही कई काम कर रहे हैं। हालही में हमने कुएं को सजाया है। शीतला मंदिर में भी पेंटिंग का काम किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: 32 करोड़ की खामी: गलियां खोदकर भूला ठेकेदार और बिना ऑडिट काटे गए चेक की खामी तलाश रहे जिम्मेदार

इसे भी पढ़ें: Khairagarh: जल आवर्धन पर भ्रष्टाचार की आंच, खामी खंगाल रहे पांच, मैडम बोलीं... जारी है जांच

Rate this item
(1 Vote)
Last modified on Tuesday, 20 October 2020 04:27

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Latest Tweets

बंकिम दृष्टि/ सियासत के मुरलीधर को सट्टे की रियासत- प्राकृत शरण सिंह @ChhattisgarhCMO @amitjogi @DPRChhattisgarh… https://t.co/rflkJAgBJl
खैरागढ़ में चार बच्चों सहित 24 संक्रमित, 80 साल के बुजुर्ग को भेजा एम्स, बिना मास्क वालों पर बढ़ाई सख्ती -… https://t.co/PCdmzTeTiu
खैरागढ़ में चार बच्चों सहित 24 संक्रमित, 80 साल के बुजुर्ग को भेजा एम्स, बिना मास्क वालों पर बढ़ाई सख्ती… https://t.co/HTgJDTWuOO
Follow Ragneeti on Twitter