Horizontal Banner
×

Warning

JUser: :_load: Unable to load user with ID: 807

बंकिम दृष्टि

बंकिम दृष्टि (60)

कुरुक्षेत्र के धर्म युद्ध में पांडवों की तरफ से लड़ने वाला कौरवों का एक भाई था, युयुत्सु। धृतराष्ट्र का 101वां

बड़ा ही अनोखा खेल है, सियासत का। बिसात बिछाई किसी ने। चालें कोई और ही सोच रहा है, चलने की

फ़िल्म: ड्रीम गर्ल (1977), आनंद बक्शी का लिखा गीत, संगीत दिया है लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने। आवाज: स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर की

सीन-1: मोहल्ला क्लास में मैडम बच्चों को पढ़ाई से जोड़ने के लिए लाल बुझक्कड़ के किस्से सुना रही हैं। शायद

गलत हो रहा है। ऐसा नहीं होना चाहिए। खासकर उनके साथ जिन्होंने वोट के बूते वजूद बनाया। कुर्सी पाई। नाम

'छोटे मियां' ने दुखती रग पर हाथ रख दिया है। विलाप की कोई जगह नहीं बची। इसलिए मिलाप के आलाप

फ़िल्म शिकार। हसरत जयपुरी गीतकार। शंकर जयकिशन संगीतकार और आवाज आशा भोसले की। गीत…

'पर्दे में रहने दो, पर्दा न

खैरागढ़ के जनमुद्दों को लेकर राज दरबार में हुई ‘डंडा शरण’ की पेशी। लगे गंभीर आरोप! फिर महाराज ने दिया

तकरीबन आठ माह का हो चुका है, कोरोना (Corona) यानी Covid-19।

चीन के वुहान में जन्मा यह वायरस जब से

ये है नैसर्गिक न्याय! तीन दिनों की बारिश ने साठगांठ की कलई खोल दी। पानी ने अपने रास्ते बहकर ठेंगा

Page 1 of 5